केजरीवाल सरकार पर अमित शाह का हमला, बोले- WiFi ढूंढते-ढूंढते बैटरी चली जाती है पर मिलता नहीं

 

केजरीवाल सरकार पर अमित शाह का हमला, बोले- WiFi ढूंढते-ढूंढते बैटरी चली जाती है पर मिलता नहीं

दिल्ली में चुनावी जमीन पूरी तरह तैयार हो चुकी है. चुनाव आयोग आज ही तारीखों का ऐलान करने जा रहा है. इससे ठीक पहले केंद्रीय गृह मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में साइकिल ट्रैक की आधारशिला रखी और आम आदमी पार्टी की अरविंद केजरीवाल सरकार पर विकास के नाम पर जनता की आंखों में धूल झोंकने का आरोप लगाया.

राजधानी दिल्ली में सोमवार को आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल जी आपने दिल्ली में 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवाने को कहा था जिनको आज भी दिल्ली की जनता ढूंढ रही है कि कहां लगे हैं? अमित शाह ने कहा, 'वाईफाई ढूंढते-ढूंढते लोगों की बैटरी खत्म हो जाती है, लेकिन वाईफाई मिलता ही नहीं है.'

केजरीवाल सरकार पर लगाये आरोप

अमित शाह ने केजरीवाल सरकार पर अंतिम दिनों में घोषणाएं करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि दिल्ली में पांच साल की जगह पांच महीने की सरकार चली है, पांच साल में केजरीवाल सरकार ने कुछ नहीं किया बस पांच महीने में विज्ञापन देकर दिल्ली की जनता की आंख में धूल झोंकने का काम किया.

इसके अलावा अमित शाह ने अरविंद केजरीवाल पर व्यक्तिगत हमले भी किए. शाह ने कहा कि जब अरविंद केजरीवाल चुनाव जीते तो कहा कि गाड़ी, बंगला कुछ नहीं लूंगा, लेकिन कुछ दिन बाद ही सब ले लिया.

फ्री वाई-फाई पर निशाना

हम आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में फ्री वाई-फाई का वादा किया था. दिसंबर 2019 में ही केजरीवाल सरकार ने इस सेवा के पहले चरण के तहत तीन हजार हॉटस्पॉट का ऐलान किया है. केजरीवाल ने दिसंबर में इस योजना की घोषणा करते हुए बताया था कि तीन महीनों में पूरी दिल्ली में कुल 11000 हॉटस्पॉट लगेंगे और हर दिन हर यूजर को 15 जीबी फ्री डाटा मिलेगा. गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी ने फ्री वाई-फाई का वादा 2015 के विधानसभा चुनाव में किया था और अब जबकि पांच साल दिल्ली में फिर चुनाव होने जा रहे हैं तो वाईफाई की शुरुआत की जा रही है और इसी को लेकर बीजेपी केजरीवाल सरकार को निशाना बना रही है.

From around the web

Health

Entertainment