संदिग्ध परिस्थितियों में बुजुर्ग दंपती ने खाया जहर, बेटे को हुआ शक-: की बीमारी से दुखी होकर दी जान

0
20

संदिग्ध परिस्थितियों में बुजुर्ग दंपती ने खाया जहर, बेटे को हुआ शक-: की बीमारी से दुखी होकर दी जान

84 वर्षीय अमर सिंह शर्मा व उनकी 80 वर्षीय पत्नी सोना देवी ने शुक्रवार देर शाम को संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खा लिया था, जिसके बाद उनकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक के 52 वर्षीय बेटे रामकरण ने बताया कि उनकी माता सोना देवी पिछले पांच साल से गंभीर बीमार थी। भूना के गांव चमारखेड़ा के खेतों की एक ढाणी में शुक्रवार देर शाम को वृद्ध दंपती ने संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खाकर अपना जीवन समाप्त कर लिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों शव कब्जे में लिए और शनिवार को पोस्टमार्टम कार्रवाई के लिए सामान्य अस्पताल फतेहाबाद भेज दिया। पुलिस ने वृद्ध दंपती के जहरीला पदार्थ खाने के मामले की जांच शुरू कर दी है। दंपत्ति ने बीमारी से तंग आकर कीटनाशक दवाई पी ली। जब उनका बेटा खेत से ढाणी में पहुंचा तो दोनों की मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष कुलदीप सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके के हालात का निरीक्षण किया और दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए शनिवार को नागरिक अस्पताल फतेहाबाद पहुंचाया।

मेहनत करके 3 एकड़ से 60 एकड़ जमीन बनाई थी

गांव चमारखेड़ा निवासी अमर सिंह शर्मा व उनकी पत्नी सोना देवी ने मिलकर अपनी पुश्तैनी 3 एकड़ जमीन में मेहनत कर और 20 एकड़ ठेके पर लेकर 60 एकड़ के लगभग जमीन बना ली थी। वृद्ध दंपत्ति के दो बेटे और एक बेटी हैं, और सभी शादीशुदा हैं। बड़ा बेटा रामनिवास गुजरात में खेतीबाड़ी को संभाल रहा है जबकि छोटा रामसरण चमार खेड़ा में मां-बाप के पास रहता था। बुजुर्ग दंपति ने दोनों बेटों के बीच जमीन का बंटवारा मात्र 3 महीने पहले किया था। जिसमें गुजरात की जमीन बड़े बेटे रामनिवास के नाम कर दी तथा चमार खेड़ा की 8 एकड़ जमीन छोटे बेटे रामसरण के नाम करवा दी थी। मगर सवा एकड़ जमीन वृद्ध दंपती ने अपने नाम रख ली थी

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here