Bhokar Fruit : ये है दुनिया का सबसे ताकतवर फल.. बूढ़ों को भी बना देता है जवान

0
141
Bhokar Fruit Benefits
Bhokar Fruit Benefits

Bhokar Fruit Benefits – आज कल की जीवनशैली ने हम लोगों को इतना ज्यादा व्यस्त कर दिया है हमें खुद के लिए भी समय नही मिलता इतना ही नहीं हम अपनी सेहत का भी ख्याल नही रख पाते। आज कल का खानपान भी हमको सही ढंग से पोषित नही करता जिसकी वजह से हम ज्यादातर शारीरिक कमजोरी से परेशान हो जाते हैं। आज कल का खानपान ही इतना मिलावटी हो चला है की हम या तो उसके दुष्प्रभाव के कारण या तो बहुत जायद मोटे हो जाते हैं या फिर बहुत ही पतले हो जाते हैं।

आज हम बात कर रहे हैं उन लोगों के बारे मे जो शरीर से बहुत ही कमजोर है और अपना वजन बढ़ाने के साथ ही अपनी सेहत को अच्छा करना चाहते हैं। आज हम आपके लिए इसी से जुड़ी एक खास जानकारी ले कर आए हैं । हमारे देश में कई तरह के फल ,सब्जियाँ ,औषधियाँ पाई जाती है जो की हमारे बहुत ही काम की होती है और इतना ही नहीं इनका सबका आना ही कुछ खास गुण होता है। आइये बात करते हैं इस बारे में की क्या है जो आपकी सेहत बहुत ही अच्छी बना सकता है।

Bhokar Fruit Benefits
Bhokar Fruit Benefits

आज हम एक फल का सेवन करने के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। आज हम आपको सलाह दे रहे हैं की यदि आप इस फल का सेवन कर लेते हैं तो यह फल आपको आपकी शारीरक कमजोरी से दूर कर देगा और आपका शरीर बहुत ही ताकतवर बन जाएगा।

Bhokar Fruit Benefits In Hindi : भोकर फल के फायदे

भोकर (Bhokar) , यह एक फल का नाम है। इसका नाम आपने शायद ही कहीं सुना होगा पर यह फल कोई आम फल नही है। इस फल का सेवन करने से बहुत ही लाभ मिलता है। जो लोग शारीरिक तौर पर कमजोर और दुबले होते हैं उनको इस फल का सेवन जरूर करना चाहिए. यह फल उनका शरीर सुडौल और ऊर्जावान बनाने में उनकी मदद करेगा। इसका सेवन करने से हड्डियों को मजबूती प्रदान होती है साथ ही यह चर्म रोगों को दूर करता है। इतना ही नही यह आपको शारीरक तौर पर भी मजबूत करता है।

आपको बता दे कि संयंत्र का फल आयुर्वेद में कृमिनाशक और इमबीपब माना जाता है। इसलिए वे एक एक्पेटोरेंट और कसैले के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने यह भी फेफड़ों से संबंधित सभी रोगों के इलाज के लिए उपयोगी माना जाता है। यूनानी चिकित्सा, भारतीय चेरी फल कृमिनाशक, मूत्रवर्धक, एक्पेटोरेंट रेचक, माना जाता है। भोकर फल जीर्ण ज्वर, जोड़ों के दर्द और प्लीहा के रोगों में सूखी खांसी, सीने और मूत्रमार्ग के रोगों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। उड़ीसा में भद्रक जिले के निवासियों को एक रक्त शोधक के रूप में मौखिक रूप से फलों का रस लेते हैं। पीसा हुआ बीज गिरी और तेल के मिश्रण भी दाद के इलाज में बाह्य रूप से लागू किया जाता है।

Bhokar Fruit Benefits
Bhokar Fruit Benefits

आपको बता दे कि भोकर फल की पत्तियों अल्सर और सिर दर्द से राहत पाने के लिए बाह्य रूप से लागू कर रहे हैं और संथाल चतनतपहव के इलाज के लिए एक बाहरी आवेदन के रूप में पीसा हुआ छाल का उपयोग करें। संयंत्र और नारियल के दूध की छाल का रस का एक मिश्रण भी ग्रापिंग दर्द से राहत के लिए प्रयोग किया जाता है। भारतीय चेरी छाल का एक काढ़े के रूप में अच्छी तरह से, अपच और बुखार से राहत के लिए उपयोगी माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here