अवध बिहारी चौधरी ने बिहार विधानसभा के स्‍पीकर पद पर किया नामांकन, लालू के इस करीबी का हुआ चुनाव तय

0
52

बिहार में महागठबंधन की नीतीश कुमार सरकार ने विश्वास मत प्राप्त किया है। इसके पहले राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार के दौरान स्‍पीकर रहे विजय कुमार सिन्‍हा ने खुद के खिलाफ लाए गए अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर मतदान के पहले इस्‍तीफा दे दिया था। अब विधानसभा के स्‍पीकर के चुनाव की बारी है। राष्‍ट्रीय जनता दल के अवध बिहारी चौधरी ने आज स्‍पीकर पद के लिए नामांकन किया है। नामांकन के वक्‍त मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार एवं उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव मौजूद रहे।

अवध बिहारी चौधरी सिवान से आरजेडी विधायक हैं। वे आरजेडी सुप्रीम लालू प्रसाद यादव के करीबी माने जाते हैं। उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव से भी उनका अच्‍छा संबंध है। महागठबंधन की सरकार के विश्‍वास मत के लिए बुलाए गए विधान मंडल दल के विशेष सत्र को एक दिन के लिए विस्तारित कर दिया गया है। अब यह कार्यवाही 26 अगस्त तक चलेगी और उसी दिन जरूरत पड़ी तो नए स्‍पीकर के पद के लिए मतदान होगा। विजय कुमार सिन्हा के त्यागपत्र देने के बाद विधानसभा के स्‍पीकर का पद खाली है। आरजेडी ने इस पद के लिए अपने वरिष्ठ नेता अवध बिहारी चौधरी का नाम आगे किया है। उन्‍होंने आज पद के लिए नामांकन कर दिया। नामांकन के वक्‍त मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार एवं उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव सहित महागठबंधन के कई प्रमुख चेहरे दिखे।

विजय कुमार सिन्‍हा के इस्‍तीफा देने के बाद अभी डिप्‍टी स्‍पीकर महेश्वर हजारी कार्यकारी स्‍पीकर हैं। उन्होंने आसन से स्‍पीकर के नामांकन एवं मतदान के बारे में कार्यमंत्रणा समिति में निर्णय की जानकारी दी। इसके पहले कैबिनेट में स्‍पीकर पद के चुनाव का प्रस्ताव पारित कर राजभवन भेजा गया। नई सरकार के विश्वास मत की पूरी प्रक्रिया के समय महेश्‍वर हजारी ही स्‍पीकर की भूमिका में रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here