चेहरे पर एक जैसा टोन पाना नहीं है मुश्किल बदलें रंगत

0
106
चेहरे पर एक जैसा टोन पाना नहीं है मुश्किल बदलें रंगत

असमान त्वचा छिपाने के लिए अक्सर प्राइमर, फाउंडेशन और कंसीलर की मदद ली जाती है। ये उत्पाद स्किन टोन को एक समान तो बनाते हैं लेकिन ये सीमित समय के लिए होते हैं। समान स्किन टोन पाने के लिए घरेलू उपाय काफी मददगार होते हैं। चेहरे, गले और हाथों की त्वचा के रंग में अंतर होना सामान्य है। पर कई बार ये अंतर चेहरे के अलग-अलग हिस्सों में भी साफ दिखाई देने लगता है।

ये हैं आसान उपाय 1 दही है असरदार

दही त्वचा को टोन करने और चमकदार बनाने का प्राकृतिक उपचार है। इसमें प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट होते हैं जो न केवल त्वचा की टोन में सुधार करते हैं बल्कि असमान रंग और दाग आदि को भी दूर करने में मददगार होते हैं। एक बड़ा चम्मच दही लेकर अच्छी तरह से फेंट लें। इसे पूरे चेहरे और गर्दन पर लगाएं। लगभग 20-30 मिनट तक सूखने दें। पूरी तरह से सूख जाने पर गुनगुने पानी से धो लें। 2

बेकिंग सोडा और गुलाब जल

बेकिंग सोडा मृत त्वचा दूर करने के साथ ही त्वचा पर उभरे दाग-धब्बों को भी दूर करता है। वहीं गुलाब जल त्वचा से गंदगी निकालता है व त्वचा में निखार लाने में मददगार होता है एक चम्मच बेकिंग सोडे में थोड़ा-सा गुलाब जल डालें। दोनों को अच्छी तरह से मिलाकर चेहरे पर लगाएं और 2-3 मिनट तक चेहरे पर मालिश करें। कुछ देर बाद गुनगुने पानी से धो लें।

3 नींबू, शक्कर, नारियल तेल

नींबू का रस त्वचा के पीएच बैलेंस को बनाए रखता है। यह ब्लीचिंग के साथ ही काले धब्बों को कम करता है, जिससे त्वचा की रंगत भी निखरती है। शक्कर मृत त्वचा को निकालती है और नारियल का तेल त्वचा को मॉइश्चराइज्ड रखता है। एक बोल में सभी सामग्रियों को मिलाएं और इस मास्क को चेहरे, गर्दन, हाथों और प्रभावित जगह पर लगाएं। हल्के हाथों से धीरे-धीरे स्क्रब करें और कुछ देर के लिए यूं ही छोड़ दें। हल्का सूखने पर गुनगुने पानी से धोएं।

4 संतरा और हल्दी

संतरे में विटामिन-सी के गुण पाए जाते हैं। यह एक बहुत अच्छे ब्लीचिंग एजेंट की तरह काम करता है। वहीं हल्दी को स्किन लाइटनिंग एजेंट के रूप में सालों से इस्तेमाल किया जा रहा है। बड़े चम्मच संतरे का रस और एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को त्वचा पर लगाएं और 15 मिनट के लिए छोड़ दें। 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें।

5 एलोवेरा जैल

एलोवेरा त्वचा के मूल रंग को बाहर लाता है। इसके अलावा इसका ठंडा प्रभाव नई कोशिकाओ को दोबारा बनाने में मदद करता है, जो स्वस्थ त्वचा के लिए महत्वपूर्ण है। एलोवेरा जैल असमान स्किन टोन का इलाज करता है और त्वचा में नमी बनाए रखता है। एलोवपेरा का पत्ता बीच सपे काट लें। इसमें सपे निकलने वाले पतले जैल को निकालकर अलग कर लें। इसपे चपेहर पर 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी सपे धो लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here