JNU हिंसा : प्रदर्शन कर रहे छात्रों का समर्थन करने JNU कैंपस पहुंचीं दीपिका पादुकोण

 

JNU हिंसा : प्रदर्शन कर रहे छात्रों का समर्थन करने JNU कैंपस पहुंचीं दीपिका पादुकोण

JNU में हुई हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन अब तेज हो गया है. अब प्रदर्शन कर रहे छात्रों का समर्थन करने बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) मंगलवार शाम जेएनयू कैंपस पहुंचीं। वे 10 मिनट तक छात्रों के साथ रहीं। हालांकि, दीपिका ने छात्रों को संबोधित नहीं किया। दरअसल, जिस समय दीपिका जेएनयू पहुंचीं थीं, उस वक्त कन्हैया कुमार(Kanhaiya Kumar) भाषण दे रहे थे।

भाजपा नेता तेजिन्दर पाल सिंह बग्गा ने की बहिष्कार की मांग :

आपको बता दे कि कुछ ही देर बाद भाजपा नेता तेजिन्दर पाल सिंह बग्गा ने छात्रों का समर्थन करने पर दीपिका का बहिष्कार करने की बात कही। तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने ट्वीट करके कहा- टुकड़े-टुकड़े गैंग और अफजल गैंग का समर्थन करने पर, अगर आप दीपिका पादुकोण की फिल्मों का बहिष्कार करेंगे, तो रीट्वीट करें।

 

बता दे कि रविवार को कुछ नकाबपोशों के कैंपस में घुसकर छात्रों-शिक्षकों के साथ मारपीट करने और हॉस्टल में तोड़फोड़ करने के 3 दिन बाद भी दिल्ली पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई। हालांकि छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत 19 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। पुलिस के मुताबिक, 5 जनवरी की घटना पर एक एफआईआर दर्ज हुई है। मंगलवार को मामले की जांच के लिए क्राइम ब्रांच की टीम जेएनयू पहुंची। 

क्यों हुई थी JNU में हिंसा?

बता दे कि जेएनयू में फीस बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान रविवार रात हिंसा हुई थी। नकाबपोशों ने छात्र-शिक्षकों को डंडे और लोहे की रॉड से बुरी तरह पीटा। वे ढाई घंटे तक कैंपस में कोहराम मचाते रहे। हमले में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई घायल हो गए। आइशी ने एबीवीपी पर हमले का आरोप लगाया और कहा कि नकाबपोश गुंडों ने मुझे बुरी तरह पीटा। करीब 35 लोग जख्मी हो गए। अब तक 23 घायलों को एम्स से छुट्टी मिल चुकी है।

From around the web

Health

Entertainment