Dainik Times – Latest Hindi News | Taja Khabar | Hindi Samachar

हनीप्रीत के साथ मिलकर राम रहीम कर रहा है बड़ी प्लानिंग? जेल से निकलते ही दे दिया बड़ा संदेश

Gurmeet Ram Rahim Adampur By Election Hindi News

हनीप्रीत के साथ मिलकर राम रहीम(Ram Rahim) कर रहा है बड़ी प्लानिंग? जेल से निकलते ही दे दिया बड़ा संदेश। 3 नवम्बर से पहले क्या करने वाला है गुरमीत राम रहीम? आपको बता दे कि रोहतक की सुनारिया जेल के अंदर बंद गुरमीत राम रहीम हनीप्रीत से मिलना चाहता था। हनीप्रीत भी बाहर बाबा का इंतजार कर रही थी . जेल से जब गुरमीत राम रहीम बाहर निकला उस दौरान हनीप्रीत बाहर गाड़ी लेकर इंतजार कर रही थी। देखते गुरमीत राम रहीम खुश हो गया। राम रहीम इस बार बाहर क्यों आया है? इसकी वजह बहुत खास है और एक खास मकसद को पूरा करने वाला है, जिसके बारे में सिर्फ हनीप्रीत को पता है।

आपको बता दे कि इस बार एक दो दिन नहीं बल्कि 40 दिन के लिए बाबा राम रहीम जेल से बाहर निकला है . राम रहीम के आने से पहले यूपी के बागपत आश्रम में हनीप्रीत पूरी तैयारी कर रही थी। यही पर इस बार की स्पेशल दिवाली बनाने वाले है लेकिन दावा किया जा रहा कि बाबा राम रहीम इस बार हनीप्रीत के लिए कोई बड़ा ऐलान कर सकता है। इसके साथ ही आदमपुर विधानसभा उप चुनाव(Adampur By Election) भी है . जेल से निकलने के कुछ घंटे बाद ही राम रहीम ने अपने सभी भक्तों को एकजुट होने के लिए संदेश भेज दिया। जिसमें उसने बताया है कि आखिर उसकी प्लानिंग क्या है?

Ram Rahim की अपने परिवार से दूरियां काफी बढ़ चुकी है। मुंहबोली बेटी हनीप्रीत धीरे धीरे डेरे की सर्वेसर्वा बनती जा रही है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि राम रहीम ने अपनी फैमली आईडी में हनीप्रीत का नाम दर्ज कराया है। पिछली बार यूपी के बागपत आश्रम में रहने के दौरान बनी आईडी में हनीप्रीत को राम रहीम की मुख्य शिष्या और धर्म की बेटी बताया गया था। इसमें राम रहीम ने अपनी पत्नी हरजीत कौर और मां नसीब कौर का नाम दर्ज नहीं कराया था। आदमपुर उपचुनाव और पंचायत चुनाव से पहले राम रहीम का जेल से बाहर निकलना सिर्फ इतिफाक नहीं बल्कि सोची समझी प्लानिंग हो सकती है?

आपको बता दे कि राम रहीम सुनारिया जेल से निकलकर उत्तर प्रदेश के बागपत आश्रम पहुंच गया है। यहां पहुंचते ही राम रहीम ने दो मिनट का वीडियो संदेश जारी किया। इस वीडियो में राम रहीम ने इशारों में चुनावी संकेत दिया है। राम रहीम ने कहा कि जैसा आपको बोला था, वैसे ही मानते रहना. जैसे भी आपको जिम्मेदार लोग बताए वैसा ही करना है, मनमर्जी नहीं करनी है। इस बार राम रहीम जेल से बाहर रहकर पहली बार दिवाली मनाएगा।

आपको बता दे कि गुरमीत राम रहीम(Ram Rahim) 20 साल की कारावास की सजा भुगत रहा है। इसके साथ ही पत्रकार छत्रपति और रंजीत हत्याकांड मामले में भी सजा भुगत रहा है. राम रहीम को इसी साल पंजाब चुनाव से ठीक पहले सात फरवरी को 21 दिन की जमानत मिली थी। इसके बाद 17 जून को भी राम रहीम 30 दिन की पैरोल पर बाहर आया था और यूपी के बागपत आश्रम में रुका था। तब यहां पर राम रहीम ने सत्संग भी शुरू कर दिया था। अपने भक्तो को राम रहीम सोशल मीडिया पर लाइव कर उनके सवालों के जवाब देता था।

राम रहीम का जेल से बाहर आना और अपने अनुयायियों को संदेश देना सियासी लिहाज से इसलिए भी अहम है क्योंकि आदमपुर विधानसभा उप चुनाव की तारीख नजदीक है। आदमपुर में 3 नवंबर को चुनाव होने हैं। इससे पहले डेरा प्रमुख राम रहीम को जून में एक महीने के पेरोल पर रिहा किया गया था और फरवरी में भी 21 दिन के लिए बाहर निकाला गया था। दावा किया जा रहा कि आदमपुर विधानसभा उप चुनाव (Adampur By Election) में अपने खास कैंडिडेट को राम रहीम जितवाना चाहता है। इसके साथ ही डेरा की कमान हनीप्रीत को भी सौंप सकता है।

Exit mobile version